फेसबुक वाली सेक्सी भाभी की चूत चुदाई


Click to Download this video!

हेलो दोस्तो मैं प्रदुमन आज आप को एक अपनी सच्ची फ्री हिन्दी सेक्स स्टोरी पड़ोस की भाभी सुनाता हूँ फ़ेसबुक मे एक भाभी से दोस्ती हुई फिर दीनो तक चॅट हुई फिर हम सेक्स चॅट भी करने लगे तब पता चला की वो सेक्स की काफ़ी भूकी है 10ईयर्स बॅक उसका पति उसको छोड़कर चला गया. तब से वो अपने बच्चे के साथ ही रहती है और उसको सेक्स काफ़ी पसंद है बट किसी से अफ़ायर करने से भी डरती है बट मुझे वो अक्सर अपने सिटी बुलाती रहती है बट मेरा कोई काम नही होता उसके सिटी मे और मैं अपने सिटी मे बिज़ी रहता हूँ.

फिर एक दिन मुझे एक फ्रेंड ने मुझे बोला की वो किसी काम से वही जा रहा है अगर टाइम हो तो तुम भी चलो तो मैने तुरंत हाँ कर दिया और नेक्स्ट डे हम निकल पड़े रास्ते मे मैने मौका देखकर भाभी को इनफॉर्म कर दिया की मैं आ रहा हूँ रात करीब 10 बजे मैं तुम्हारे सिटी मे पहुँच जाउन्गा वो बोली वेलकम जान और कॉंडम ज़रूर ले लेना मैने ओके बोला.

जब मैं उसके सिटी मे पहुचा मैने अपने दोस्त को बोला की मुझे यहा छोड़ दो मुझे किसी दोस्त के यहा जाना है कल मैं तुम्हे कॉल कर लूँगा फिर मैं कार से उतर गया और उसे कॉल किया उसने मुझे अड्रेस दिया और मैं वही पास के शॉप से कॉंडम लिया और ऑटो से उसके बताए अड्रेस पे चला गया. थोड़ी परेशानी के बाद उसका घर मिल गया वो बाहर ही खड़ी थी फिर हम अंदर गये उसने येल्लो कलर की साड़ी पहन रखी थी और काफ़ी हॉट लग रही थी मैं उसके बहो मे भर लिया हग किया. करीब 2मीं तक हम आँखे बंद किए लिपटे रहे वो धीरे धीरे मुझे आपनी बहो मे कास्ती जा रही थी शायद काफ़ी दीनो के बाद किसी मर्द का अहसास मिला इसलिए मैं भी उसके पीठ मे हाथ फेर रहा था गले को चूम रहा था.

फिर वो बोली चलो पहले फ्रेश हो जाओ फिर खाना खाते है और मैं भी वही बोलना चाहता था मैं टॉवेल लेकर वॉशरूम चला गया फ्रेश होकर जब बाहर आया तो वो बोली पहले खाना खा लो और हम खाना खाने लगे वो मुझे खिलाती और मैं उसे कसम से मुझे तो जल्दी थी उसे चोदने की बट मैं क्या कर सकता था आख़िर कार खाना ख़तम हुवा और हम बेड रूम आ गये.

तब वो बोली प्रदुमन तुम बैठो मैं चेंगे कर के आती हू मैने तुरंत उसको पकड़ कर बहो मे ले लिया और कहा मैं बोला डियर रहने दो ना मैं उतार दूँगा और किस करने लगा नेक मे गाल मे सर पे और लिप्स पे वो भी मेरा साथ देने लगी मैं उसके पीठ मे हाथ फेर रहा था कमर पे हिप पे और चूमने चाटने लगा वो भी मुझे काफ़ी कस के पकड़ रखी थी और मेरे भी पीठ को सहला रही थी.

यह कहानी भी पढ़े : पडोसी लौंडिया की बड़ी बड़ी चुचियाँ

फिर अचानक आपना एक हाथ मेरा लंड पे ले गयी और कपड़े के उपर से ही लंड को मसलने लगी मैं और जोश मे आ गया मैने भी एक हाथ उसके बूब्स पे रखा और मसलने लगा वो आहह आह करके मोन करने लगी अब मैने साड़ी का पल्लू नीचे कर दिया और ब्लाउस को खोल दिया वो अब ब्रा मे थी वाइट कलर की ब्रा मे शायद इंपोर्टेड ब्रा थी. उसमे उसकी चुचिया गजब की सुंदर लग रही थी और ब्रा से आज़ाद होने के लिए और फूली जा रही थी मैं ब्रा के उपर से ही बूब्स को दबाने लगा और जितना बूब्स बाहर था उसको छूने चाटने लगा वो कभी कभी लंड को ज़ोर से दबा देती तो और भी मज़ा आता था इतने मे मैने साड़ी खोल दी और पेटिकोट को भी खोल दिया कसम से संगमरमर की तरह वाइट बदन था उसका अब मुझे कसम से कंट्रोल नही हो रहा..

मैने उसे बेड मे लेटा दिया और आपना टॉवेल और टी शर्ट खोल दिया अब मैं भी सिर्फ़ अंडरवेर मे था मैं अब उसके लेग से चूम ना स्टार्ट किया चुत को पैंटी के उपर से लंबा जीभ निकाल कर नीचे से उपर चाटा चूमा वो आह आह प्रदुमन क्या कर रहे हो आआहह प्लीज़ मत करो ऐसा मैं अब कंट्रोल नही कर पा रही प्लीज़ आआहह उउउम्म्म उम्म्म किए जा रही थी.

अब नॉवेल को चूमा काफ़ी गहरी नवी थी मैने दो चार बार जीभ से नॉवेल की चुदाई कर दी अब बूब्स की बारी थी मैने ब्रा खोल दी वाउ पिंक निप्पल थी उसकी मैने मूह मे ले लिया और पीने लगा चूसने लगा बूब्स को चारो तरफ से बारी बारी दोनो बूब्स को लाल लाल हो गये दोनो बूब्स वो आअहह ह किए जा रही थी..

बोल रही थी बहुत बाड़िया चूस्ते हो प्रदुमन मज़ा आ रहा है और चूसो और चूसो पैंटी उतार दो अपनी और मेरी भी जान और मेरे चुत मे आपना लंड को टच होने दो और मज़ा आएगा तुम मेरे उपर आ कर बूब्स को चूसो मैने भी वैसा ही किया बिल्कुल क्लीन थी लगता है आज ही सॉफ किया था और चुत भी पिंक लग रही थी चुत को देखकर लग रहा हो मानो चुत मुस्कुरा रही हो खुशी से की आज उसको लंड मिलेगा.

अब मैं फिर से उसके उपर आकर बूब्स मे बिज़ी हो गया एक बूब को चूस्ता तो दूसरे को दबाता बूब्स तो ऐसा रेड हो गया था की मानो अब खून निकल जाएगा निप्पल टाइट टाइट हो गये थे और वो लगातार आह ह उम्म्म उम्म्म की आवाज़ निकाले जा रही थी और दोस्तो चुदाई के वक़्त ये आवाज़ मर्दो को और दीवाना बना देता है ये तो सभी को पता है मैं कभी दोनो बूब्स को एक साथ जोड़ कर दोनो निप्पल को एक साथ मूह मे लेकर चूस्ता.

करीब 20 मीं के बाद मैं चुत मई गया औट चुत के दोनो लिप्स को अपने फिंगर से खोल कर जीभ से सड़क की आवाज़ निकालते हुए चाटने लगा पानी पानी हो गयी थी चुत पूरा लगता है एक बार चुत मे बारिश हो गयी थी मीन्स झड़ चुकी थी अब मैं कभी चुत मे उपर नीचे जीभ को करता तो कभी चुत के दाने को मूह मे लेकर उसपे जीभ गोल गोल फेरता तो कभी चुत मे जीभ से चुदाई करता तो कभी एक उंगली भी डाल देता..

यह कहानी भी पढ़े : टीचर के साथ धकाधक चुदाई

मेरा पूरा मूह गीला हो गया चुत की पानी से काफ़ी पानी निकल रहा था वो जहा लेटी थी बेडशीट भी गीला हो गया था अब वो बोली प्लीज़ आअहह अहह अब मत तड़पाओ कॉंडम लगा लो और डाल दो मैने कॉंडम निकाला और उसे दे दिया वो हसने लगी और कॉंडम लगाने ही वाली थी की उसको क्या हुवा की वो मेरे लंड को मूह मे ले ली और चूसने लगी मस्त चूस रही थी एक हाथ से लंड को पकड़ कर चूस रही थी.

फिर थोड़ी देर बाद कॉंडम लगाया और बोली अब करो जान मैं भी लंड को उसके चुत पे टीका कर हल्के से प्रेस किया चिकना चुत था आधा लंड सरक गया मैं थोड़ा बाहर खिछा और दुबारा डाला थोड़ा और अंदर वो आहह कर उठी बोली जान आराम से दर्द हो रहा है और मज़ा भी आ रहा है आज चुत फाड़ दो प्रदुमन फक मी प्रदुमन फक मी हार्ड्डर यह आअहह करो मैं और तेज झटके से डाल दिया. वो ज़ोर से चीखी आहह प्रदुमन मर गयी करो करो रुकना नही करो प्रदुमन और मैं भी चुदाई करने लगा ले और ले आहह अह्ह्ह्ह की आवाज़ गूंजने लगी रूम मे चुदाई होती रही अब उसको डोगी स्टाइल मे होने को बोला तो वो बोली नही जान नेक्स्ट टाइम अभी ऐसे ही करो और दुदु भी पियो ना आहह अह्ह्ह्ह मैं बूब्स को मूह मे लिया और दूसरे बूब को हाथ मे ले कर चुदाई करने लगा वो आहह अह्ह्ह्ह करने लगी.

वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी कमर उठा उठा कर लंड ले रही मैं भी काफ़ी तेज झटके दे रहा था अब शायद उसे दर्द भी हो रहा लंड फूच फूच की आवाज़ कर रहा था अब मैने हात से लंड निकाल कर कॉंडम भी निकाल दिया और उसके दोनो बूब्स को एक साथ करके उसमे लंड को डाल दिया.. बूब्स की चुदाई स्टार्ट कर दी जब मेरा लंड बूब्स मे रगड़ जाता और सामने से बाहर निकलता तो वो आपने मूह मे लंड को ले लेती तो एसा उसके करने से मुझे डुब्बल मज़ा आने लगा मैं भी काफ़ी तेज़ी से बूब्स की चुदाई कर रहा था.

मुझे अपना फीडबॅक देने के लिए कृपया कहानी को ‘लाइक’ ज़रूर करे, ताकि कहानियों का ये दौर अन्तर्वासना – स्टोरी पर आपके लिए यूँ ही चलता रहे और करीब 10मीं के बाद मैं और वो दोनो झड़ गये हम एक दूसरे से लिपट कर काफ़ी देर तक पड़े रहे मैं उसके उपर ही लेटा रहा करीब 15मीं के बाद हम उठे और बाथरूम जाकर सफाई की.

मैं वाहा तीन दिन रुका था और हर तरह से चुदाई की उसकी कभी बाथरूम मे कभी किचन मे कभी सोफा मे तो कभी छत पे रात मे हर जगह चोदा वो कहती थी मेरे घर के कोने कोने मे सेक्स करो मेरे साथ ताकि जब भी मैं उस प्लेस से गुज़रु मुझे तुम्हारे साथ किया हुवा सेक्स याद आए. तो दोस्तो कैसी लगी मेरी फ्री हिन्दी सेक्स स्टोरी पड़ोस की भाभी मुझे ज़रूर रिप्लाइ करना वेटिंग फॉर युवर रिप्लाइ मेरी मैल आईडी है थॅंक यू उउम्महा.

इस कहानी को WhatsApp और Facebook पर शेयर करें

Online porn video at mobile phone